वन विभाग के रिटायर बाबू ने डीएफओ पर डाला पेट्रोल,पेंशन को लेकर परेशान था आरोपी - डीएफओ कार्यालय में मचा हड़कंप - News Adda India

Header Ads

वन विभाग के रिटायर बाबू ने डीएफओ पर डाला पेट्रोल,पेंशन को लेकर परेशान था आरोपी - डीएफओ कार्यालय में मचा हड़कंप

 वन विभाग के रिटायर बाबू ने डीएफओ पर डाला पेट्रोल,पेंशन को लेकर परेशान था आरोपी


डीएफओ कार्यालय में मचा हड़कंप

शिवपुरी - पेंशन प्रकरण को लेकर पिछले 4 साल से परेशान वन विभाग शिवपुरी में पदस्थ रहे रिटायर बाबू कैलाश भार्गव ने कल दोपहर डीएफओ कार्यालय में जाकर कक्ष से बाहर निकल रहे डीएफओ ललित भारती पर पेट्रोल डालकर जलाने की कोशिश की। हालाकी वहां मौजूद लोगों ने पेट्रोल डालने वाले बाबू को पकड़ लिया जिससे वह कोई बड़ी घटना को अंजाम देने में नाकामयाब रहा। इस पूरे घटनाक्रम को लेकर वन विभाग में दिनभर हड़कंप की स्थिति निर्मित रही। इस पूरे घटना क्रम में डी एफ ओ लवित भारती का कहना है कि बाबू ने आकर सीधे उनके ऊपर पेट्रोल डालकर उन्हें जलाने का प्रयास किया।लेकिन वे बमुश्किल बच गए। जबकि दूसरी तरफ पेट्रोल डालने के बाद जलाने की कोशिश करने वाले आरोपी रिटायर बाबू कैलाश भार्गव का कहना था कि उन्होंने कोई पेट्रोल या मिट्टी का तेल नहीं डाला यह सब षडयंत्र उन्हें फंसाने के लिए वन विभाग के अधिकारी और कर्मचारियों ने रचा है। घटना कि खबर लगते ही मौके पर तत्काल पुलिस बल और वरिष्ठ अधिकारियों ने पहुंचकर मामले की गंभीरता को समझा और आरोपी कैलाश भार्गव पर 307 का प्रकरण दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है। इससे पूर्व भी रिटायर बाबू कैलाश भार्गव 19 नवंबर को शिवपुरी विधायक एवं कैबिनेट मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया के समक्ष कलेक्ट्रेट परिसर में ललित भारती के सामने ही अपनी पेंशन संबंधित समस्या को लेकर 26 जनवरी को आत्महत्या करने की धमकी भी दे चुके थे



क्या है पूरा मामला


डी एफ ओ पर पेट्रोल डालकर जलाने की कोशिश करने वाले मामले में जो घटनाक्रम निकल कर सामने आया है उसके अनुसार रिटायर बाबू कैलाश भार्गव वन विभाग में पदस्थ था सन 2017 में रिटायरमेंट के बाद अपनी पेंशन और अन्य देयक भक्तों के लिए लगातार वन विभाग के अधिकारियों के चक्कर लगा लगा कर थक गया था। बाबू कैलाश भार्गव आज इसी संदर्भ में अपनी शिकायत लेकर डीएफओ कार्यालय पहुंचा जहां डी एफ ओ भारती अपने कार्यलय से बाहर निकल रहे थे तभी अचानक कैलाश भार्गव ने उन पर पेट्रोल डाल दी। जैसे ही बाबू ने पेट्रोल डाला मौके पर उपस्थित लोगों ने कैलाश भार्गव को पकड़ लिया और कोई बड़ी घटना को अंजाम देने से रोक लिया इस घटना के बाद भारी पुलिस बल और वरिष्ठ अधिकारी कार्यालय पहुंचे और आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया।


26 जनवरी को आत्महत्या की चेतावनी दे चुका था बाबू


पेंशन प्रकरण को लेकर 4 साल से परेशान बाबू कैलाश भार्गव कल की घटना से पूर्व भी कलेक्ट्रेट परिसर में खेल मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया के समक्ष अपनी पीड़ा व्यक्त कर चुका था। दिनांक 19 नवंबर 2020 को कलेक्ट्रेट परिसर में ललित भारती के समक्ष खेल मंत्री को भी पीड़ित बाबू ने अपनी समस्या को लेकर अवगत कराया था ।और पेंशन प्रकरण का निराकरण ना होने को लेकर 26 जनवरी 2021 को आत्महत्या करने की चेतावनी भी पेंशन के लिए भटक रहे बाबू कैलाश भार्गव ने कलेक्टर परिसर में दी थी।

बाबू नियम विरुद्ध इंक्रीमेंट चाहते थे: भारती


वन विभाग से रिटायर कर्मचारी कैलाश भार्गव के रिटायरमेंट के बाद मिलने वाले सभी देयक और भत्ते हम उन्हें दे चुके थे । शासन के नियम अनुसार रिटायरमेंट के बाद मिलने वाली पेंशन भी इन्हें दी जा रही थी। परंतु इनके द्वारा अतिरिक्त इंक्रीमेंट लगाकर पेंशन का दबाव बनाया जा रहा था। पिछले कई दिनों से इसी तरह से यह हम पर दबाव बना रहे थे। पहले भी आत्महत्या की धमकी देकर नियम विरूद्ध पेंशन बढ़ाने का दबाव बनाया था। परंतु हम इन से साफ बोल चुके थे कि नियम अनुसार जो कुछ भी आपके साथ हम अच्छा कर सकते थे हमने सब कुछ कर दिया है। परंतु फिर भी लगातार इनके द्वारा दबाव बनाया जा रहा था। और आज मैं जब कार्यालय से बाहर निकल रहा था तो मेरी गाड़ी के पास आकर उन्होंने मुझ पर पेट्रोल फेंक कर आग लगाने की कोशिश की।



मैंने कोई पेट्रोल नहीं डाला :  कैलाश भार्गव


पिछले साढे 3 साल से मैं अपनी पेंशन प्रकरण को लेकर लगातार वन विभाग के अधिकारियों के चक्कर काट रहा हूं। मगर मेरे साथ न्याय नहीं किया जा रहा है। चक्कर लगा लगा कर मैं इतना परेशान हो गया कि आत्महत्या का विचार कई बार मेरे मन में आता है ।आज भी मैं अपनी समस्या लेकर डी एफ ओ साहब के पास आया था और अचानक ही इन्होंने यह सारा षड्यंत्र रच कर मुझे फंसाने की साजिश की है। मैं क्यों किसी के ऊपर पेट्रोल डालने लगा मैं खुद परेशान हूं और एक बुजुर्ग आदमी को यह लगातार परेशान कर रहे हैं।


वन विभाग के रिटायर्ड बाबू कैलाश नारायण भार्गव द्वारा वन विभाग के DFO पर पेट्रोल डालकर जलाने का मामला सामने आया है जिसमें आरोपी कैलाश नारायण भार्गव को मौकाए बारदात से गिरफ्तार कर 307 ओर 353 की कायमी कर जेल भेजा गया है -

सुधीर सिंह कुशवाह

एसडीओपी शिवपुरी

No comments