फ़ेसबुक आईडी से पैसे मांगने का सीधा फंडा अपना रहे हैं लोग, जिसमें नहीं करनी पड़ती आईडी हैक, कैसे बचें - News Adda India

Header Ads

फ़ेसबुक आईडी से पैसे मांगने का सीधा फंडा अपना रहे हैं लोग, जिसमें नहीं करनी पड़ती आईडी हैक, कैसे बचें



मध्यप्रदेश के साथ साथ हमारे शहर में अक्सर यह बात सोशल प्लेटफॉर्म पर लगातार आ रही है कि आज हामरे चिरपरिचित व्यक्ति द्वारा पैसे मांगे गये जिसमें कई लोगों द्वारा आत्मीय भावना में बहते हुये माँगी हुई राशि दिये गये एकाउंट में डाले भी गये परन्तु जब उनकी संबंधित व्यक्ति से बात हुई तो कई लोगों ने जाना कि हम किसी ऑनलाइन छलावे के शिकार हुये है।
गौरतलब है कि भारत के सभी जिलों में इस तरह की ऑनलाइन ठगी का शिकार लोग निरंतर हो रहे है परन्तु सबसे बड़ी बात यह ही कि ठगी के शिकार लोग इसे बहुत बडे हैकर द्वारा रचित प्रणाली को मान रहे है।हालांकि ऐसा कुछ नही है न ही इस ठगी में आपका किसी भी प्रकार का पहचान पत्र काम आता है और न ही आपका मोबाईल नम्बर....जी हाँ इस बात को सुन कर आप हैरान न होइए।

आखिर कैसे करते है यह लोग फ्रॉड

अब सबाल उठता है कि हमारे चिरपरिचित लोग अपनी फेसबुक आई से हमारे फेसबुक मैसेंजर पर पैसे कैसे मांग लेते हैं।

  • हालांकि यहां यह बड़ा सबाल उठता है की जिस व्यक्ति द्वारा आपके फेसबुक मैसेंजर पर मैसेज डालकर अपनी व्यथा को बता कर आपसे पैसे की मांग की जाती है तो आपके द्वारा उस व्यक्ति की एक बार उसी मैसेंजर के द्वारा उसकी प्रोफाइल जरूर चैक की जाती है जिसमें आपको दरखने को मिलता है कि वह फेसबुक आईडी आपके ही किसी परिचित की है परन्तु ऐसा नहीं होता है।जिस आईदी को आपके द्वारा देखा जाता है वह आईडी आपके संबंधित व्यक्ति के फेसबुक एकाउंट का क्लोन होता है।


कैसे बनाई जाती है फेक आईडी

फेसबुक एकाउंट पर किसी की भी फेक आईडी बनाना किसी सूरमा का काम नहीं होता है और न ही इसमें किसी हैकर की आवश्यकता पड़ती है।
फेक एकाउंट बनाने के लिये उक्त गुमनाम लोग सिर्फ हमारे फेसबुक एकाउंट की जानकारी को कॉपी करते है।
सबसे पहले वह किसी भी मोबाइल नंबर या ईमेल आईडी से एक फेसबुक एकाउंट बनाते है जिसके बाद जो नाम, पता व आपके द्वारा जितनी भी जानकारी डाली गई है उसे कॉपी कर उस नये एकाउंट में सबमिट कर देते है।उसके बाद आपके द्वारा डाली गई प्रोफाइल फ़ोटो व कवर फ़ोटो को डाउनलोड कर उसे फेक आईडी पर चढ़ा लिया जाता है एवं साथ ही जितनी भी जानकारी आपके द्वारा डाली गई यह फ्रॉड लोग उस सम्पूर्ण जानकारी को उनके द्वारा बनाई गई फेक आईडी में डाल लेते है।
जिससे आपकी फ़ेसबुक आईडी और बनाई गई फेसबुक आई हूबहू दिखती है।
अब जब फेसबुक आईडी एक जैसी दिखेगी तो फेसबुक मैसेंजर भी एक जैसा ही दिखेगा।
जिसका जनता आज शिकार हो रही है।
हालांकि यह घटना 40 वर्ष की उम्र पार कर चुके लोगों के साथ हो रही है क्यों कि उनको इसके बारे में कम जानकारी होती है।

सावधानियां

अब इससे फ्रॉड से बचने के लिए सबसे जरूरी है कि आप ऐसे किसी भी प्रकरण को सत्यापित करने के लिये जिस व्यक्ति द्वारा आपसे पैसों की मांग की गई है उस व्यक्ति से एक बार फ़ोन पर अवश्य चर्चा करें।
साथ ही अपनी मेल आईडी व डेट ऑफ बर्थ के साथ साथ जितनी जानकारी उसे हिडन करके रखें।
जिससे आगे आप इस तरह की होने बाली ठगी का शिकार से बच सकें।

No comments