कश्मीर में लॉकडाउन तोड़कर घर पहुंचने के लिए व्यक्ति ने अपनी ही मौत का बहाना बनाया, पुलिस ने आखिरी चेकपोस्ट पर पकड़ा - News Adda India

Header Ads

कश्मीर में लॉकडाउन तोड़कर घर पहुंचने के लिए व्यक्ति ने अपनी ही मौत का बहाना बनाया, पुलिस ने आखिरी चेकपोस्ट पर पकड़ा

दुनियाभर में कोरोनावायरस का संक्रमण फैला हुआ है। यही वजह है किदेशभर में 21 दिनों के लिए लॉकडाउन लगाया गया है। इसके बावजूद कुछ लोग लगातार नियमों को तोड़ने की कोशिश में जुटे हैं। कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक ऐसे मामले देखने को मिल रहे हैं। ताजा मामला कश्मीर से जुड़ा है। जम्मू-कश्मीर पुलिस ने बुधवार को बताया कि कश्मीर के पूंछ जिले में रहने वाले हकीम दीन ने लॉकडाउन के बीच घर लौटने के लिए अपनी ही मौत का बहाना बनाया। उसने इस काम के लिए चार लोगों को अपने साथ मिलाया। पुलिस के मुताबिक, इन सभी ने एंबुलेंस और झूठे मृत्यु प्रमाणपत्र की मदद से सैकड़ों किलोमीटर की दूरी तय भी कर ली थी, मगर इनके गांव से 200 किमी दूर पुलिस चेक पोस्ट पर इनका झूठ पकड़ा गया। पुलिस ने सभी लोगों को गिरफ्तार करके क्वारैंटाइन कर दिया है।
दरअसल, हकीम दीन को सिर में हल्की चोट लगी थी, जिसका इलाज उसने जम्मू के अस्पताल में करवाया था। इस दौरान एंबुलेंस के ड्राइवर ने 70 वर्षीय हकीम को सलाह दी कि यदि वह अपना झूठा मृत्यु प्रमाणपत्र बनवा लेता है तो वे सभी पुलिस चेकपाइंट्स को पास करते हुए वे सभी अपने गांव पहुंच सकते हैं। दीन के साथ ही तीन और लोग भी अपनेघर लौटना चाहते थे। ये सभी पूंछ के रहने वाले हैं।
सभी पर धोखाधड़ी के आरोप तय किए गए हैं- एसपी अंगराल
एसपी रमेश अंगराल ने कहा- इन चारों ने ड्राइवर के साथ मिलकर 160 किलोमीटर का रास्ता अस्पताल से बनवाए गए झूठे मृत्यु प्रमाणपत्र के साथ पूरा कर लिया था। इसके बाद एंबुलेंस को इनके गांव से पहले पड़ने वाले आखिरी चेकपाइंट पर रोका गया था। जांच करने वालापुलिसकर्मीतुरंत यह समझ गया था कि जो व्यक्ति चादर ओढ़कर पड़ाहै, वह मरा हुआ तो नहीं हो सकता। इन सभी पर धोखाधड़ी और सरकार के आदेशों काउल्लंघन करनेका आरोप है। अभी तक पूंछ जिले में किसी भी संक्रमित के मिलने की सूचना नहीं मिली है।



जम्मू-कश्मीर पुलिस ने पुलिस ट्रेनिंग स्कूल कठुआ और शेर कश्मीर पुलिस अकादमी में क्वारैंटाइन सुविधाएं तैयार की हैं। बुधवार को डीजीपी दिलबाग सिंह ने इन केंद्रों का निरीक्षण किया।



No comments